-->
--

सुख और दुख में, कोई ज्यादा भेद नहीं है जिसे

हिन्दी सुविचार


हिन्दी सुविचार
हिन्दी सुविचार


सुख और दुख में, कोई ज्यादा भेद नहीं है..

जिसे हमारा मन स्वीकारे वह सुख, और जिसे
हमारा मन अस्वीकारे वह दुख.!
 
ये सब खेल हमारी स्वीकृति और अस्वीकृति, का ही तो है...!
🙏🙏🙏


sukh aur dukh mein, koee jyaada bhed nahin.!

jise hamaara man sveekaare vah sukh, aur jise
hamaara man asveekaare vah dukh.!
 
ye sab khel hamaaree sveekrti aur asveekrti, ka hee to hai...!
🙏🙏🙏

Advertisement
Post Comments ()