-->
--

हमारी खुशी हमारी सोच के उपर ही निर्भर करती है..

हिन्दी सुविचार

हिन्दी सुविचार
हिन्दी सुविचार


हमारी खुशी हमारी सोच के उपर ही निर्भर करती है.. 

जैसे कि, हम शिकायत कर सकते हैं कि
गुलाब की झाड़ियों में कांटें हैं 

या फिर ये सोच कर खुश हो सकते हैं कि,
कांटों की झाड़ियों में गुलाब है...!!


hamaaree khushee hamaaree soch ke upar hee nirbhar karatee hai.. 

jaise ki, ham shikaayat kar sakate hain ki
gulaab kee jhaadiyon mein kaanten hain 

ya phir ye soch kar khush ho sakate hain ki,
kaanton kee jhaadiyon mein gulaab hai...!!

Advertisement
Post Comments ()