-->
--

जब दर्द और कड़वी बोली, दोनों सहन होने लगे, तो ये

हिन्दी सुविचार

हिन्दी सुविचार

हिन्दी सुविचार, सच्ची बातें

जब दर्द और कड़वी बोली,
दोनों सहन होने लगे,
तो ये समझ लेना कि
जीना आ गया।
🙏🏻सुप्रभात🙏🏻
___________________
Hindi Suvichar, Sachi Baten

jab dard aur kadvi boli,
dono sahan hone lage,
to samajh lena ki
jeena aa gaya.
🙏🏻suprabhat🙏🏻
Post Comments ()