-->
--

बिना रिश्ते के जो अजनबी अपने हो जाते हैं,

हिन्दी सुविचार

हिन्दी सुविचार
हिन्दी सुविचार



बिना रिश्ते के जो अजनबी
अपने हो जाते हैं, ना

कभी-कभी तो खून के रिश्तों से
भी बड़े हो जाते हैं..!


bina rishte ke jo ajanabee
apane ho jaate hain, na

kabhee-kabhee to khoon ke rishton se
bhee bade ho jaate hain..!

Download
Advertisement
Post Comments ()