रिश्ते भी इमारत की ही तरह होते हैं, हल्की - फुल्की


रिश्ते भी इमारत की ही 
तरह होते हैं,

हल्की - फुल्की दरारें
नज़र आएं तो,

ढ़हाइये नहीं !!
मरम्मत कीजिए...!
🙏🙏🙏

Post a Comment

0 Comments