पहले बोलती थी की तेरे हर सुख दुख मे काम आउंगी...


पहले बोलती थी की तेरे हर 
सुख दुख मे काम आउंगी 

अब गेहूँ काटने का समय 
आया तो फ़ोन ही नहीं उठा रही है कामिनी
😕😕😕😕

Post a Comment

0 Comments