-->
--

💖आँखों में आंसुओं की लकीर बन गयी💗;जैसी चाहिए थी वैसी तकदीर बन गयी;...

Hindi shayari

Hindi shayari
Hindi shayari


💖आँखों में आंसुओं की लकीर बन गयी💗;

जैसी चाहिए थी वैसी तकदीर बन गयी;

हमने तो सिर्फ रेत में उंगलियाँ घुमाई थी;💔

💖गौर से देखा तो आपकी तस्वीर बन गयी।👈

Advertisement
Post Comments ()